रविवार, 5 मई 2013

लडकियों दुनिया बदल रही हैं


लडकियों
दुनिया बदल रही हैं
किस्मत चमक रही हैं
अब घर बेठने से कम नही चलेगा
उठो निकलो काम पर अपने काम से

रास्ता अँधेरा होगा
दूर पर कही सवेरा होगा
रोशन करनी हैं तु
म्हे दुनिया
उठो चलो कदम बढाओ शान से

एक अकेली मत चलो
आपस में तुम मत लड़ो
छा सकती हो तुम दुनिया पर
जब चला दो झुण्ड में तीर कमान से

कारवां होने लगा छोटा
नर नारी की जातका
कन्या को भी जन्मदो
और समूह बनाओ उनका तुम सम्मान से

एकता मैं बल हैं
बल ही बलवान हैं
नारी ही नारी की दुश्मन
झूठ कर दो इस बयां को अपने ज्ञान से .................. नीलिमा
 

9 टिप्‍पणियां: