सोमवार, 20 जनवरी 2014

तुम्हारा हाथ थामे

एक मुठी ख्वाहिशे 
संकोची जिगर 
और तुम्हारी देहरी 
चली आई थी हाथ तुम्हारा थामे 
एक सोच के साथ 
यह अजनबी हाथ 
जो थामा हैं मैंने
उम्र भर को
उम्र भर जीने के लिय
क्या देगा साथ

और आज मुढ कर देखती हूँ तो
मीठी सी मुस्कान तैर जाती हैं
मेरे लबो पर
तुम अजनबी कहाँ थे
अजनबियों से बात करना
मेरी आज भी आदत नही
तुम तो मेरे अपने थे
तभी तो चली आई थी
बरसो पहले
तुम्हारा हाथ थामे
इस आँगन में
जहाँ मैंने
अपने सपने बोये थे
और तुमने उनको
सींचा अपने प्यार और विश्वास से
आज इसकी फसल तैयार हैं

सुनो ना .........
तुम आज भी वैसे ही हो जैसे २५ बरस पहले थे ......
मैं ही कुछ कुछ बदल गयी हूँ ......कह दो ना तुम तो

नीलिमा शर्मा निविया




आपका सबका स्वागत हैं .इंसान तभी कुछ सीख पता हैं जब वोह अपनी गलतिया सुधारता हैं मेरे लिखने मे जहा भी आपको गलती देखाई दे . नि;संकोच आलोचना कीजिये .आपकी सराहना और आलोचना का खुले दिल से स्वागत ....शुभम अस्तु

35 टिप्‍पणियां:

  1. शादी साल गिरह की बहुत बहुत बधाई और शुभकामनाएँ ......!!

    उत्तर देंहटाएं
  2. शादी के २५ साल पूरे होने पर ....बहुत बहुत शुभकामनाएँ .....ये सफर यूं ही जारी रहे

    उत्तर देंहटाएं
  3. बहुत सुन्दर प्रस्तुति...!
    --
    आपकी इस प्रविष्टि् की चर्चा कल मंगलवार (21-01-2014) को "अपनी परेशानी मुझे दे दो" (चर्चा मंच-1499) पर भी होगी!
    --
    सूचना देने का उद्देश्य है कि यदि किसी रचनाकार की प्रविष्टि का लिंक किसी स्थान पर लगाया जाये तो उसकी सूचना देना व्यवस्थापक का नैतिक कर्तव्य होता है।
    --
    हार्दिक शुभकामनाओं के साथ।
    सादर...!
    डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

    उत्तर देंहटाएं
  4. पच्चीसवी वैवाहिक वर्षगाँठ पर हार्दिक शुभकामनाएँ।

    उत्तर देंहटाएं
  5. आपकी लिखी रचना बुधवार 22/01/2014 को लिंक की जाएगी...............
    http://nayi-purani-halchal.blogspot.in
    आप भी आइएगा ....धन्यवाद!


    उत्तर देंहटाएं
  6. याद आ गये वो चित्र---हां,बीते पल जीवन के चित्र-पटल पर चलते हैं.
    शुभकामनाएं

    उत्तर देंहटाएं
  7. विवाह की पच्चीसवीं वर्षगाँठ पर ढेरों शुभकामनाऐं !

    उत्तर देंहटाएं
  8. एक-दूजे का हाथ थामे यूँ ही आप उम्र गुजार दें. हार्दिक शुभकामनाएं !

    उत्तर देंहटाएं
  9. प्रेम की मीठी बयार सी रचना ... यूँ ही समय गुज़रता रहे तो कोई इच्छा कहाँ शेष रहती है ... शादी के जीवंत २५ वर्ष की बधाई और शुभकामनायें ...

    उत्तर देंहटाएं
  10. bahut hi sundar rachna. aapne bhavnaon ko sundar abhivyakti di hai; padh kar bahut achcha laga...

    उत्तर देंहटाएं
  11. आप दोनों का साथ यूँ ही जन्म जन्मान्तर तक बना रहे. विवाह की २५वीं सालगिरह पर हार्दिक बधाई और मंगलकामनाएँ!

    उत्तर देंहटाएं
  12. परिणय के पच्चीस वर्ष पर अनंत हार्दिक शुभकामनाऐं-----

    उत्तर देंहटाएं